शेयर बाजार में आयी सुनामी से निवेशकों के डूबे साढ़े पांच लाख करोड़– वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामले बढ़ने से शेयर बाजारों में भारी गिरावट आई है। भारत में बाजार एक और महामारी की आशंका से बौखलाए हुए हैं।

पिछले तीन दिनों से बाजार में ऐसी सुनामी आई है जो सेंसेक्स और निफ्टी दोनों को बहाकर ले गई है। कारोबार के अंत में बीएसई सेंसेक्स 980 अंकों की भारी गिरावट के साथ 60,000 के स्तर से नीचे आ गया।

निवेशकों में बढ़ा कोरोना का डर

कोविड के नए वेरिएंट बीएफ7 के डर से निवेशकों की धारणा नकारात्मक रूप से प्रभावित हुई, जिसके परिणामस्वरूप बिकवाली का भारी दबाव रहा।

दोपहर 2.24 बजे तक, बीएसई सेंसेक्स 879.12 अंक या 1.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,947.10 पर था। निफ्टी में भी गिरावट आई और इस समय यह 290.45 अंक या 1.60 फीसदी की गिरावट के साथ 17,836.90 पर बंद हुआ।

दोपहर 3.25 बजे कारोबार खत्म होने से महज 5 मिनट पहले सेंसेक्स 956.70 अंक या 1.57 फीसदी गिरकर 59,869.52 पर पहुंच गया। अब तक के उच्चतम स्तर से अब तक सेंसेक्स करीब 4000 अंक गिर चुका है।

सेंसेक्स 600 अंक की गिरावट के बाद खुला

हफ्ते का चौथा कारोबारी दिन था जब शेयर बाजार ने लाल निशान पर कारोबार शुरू किया था। बंबई शेयर बाजार में शुरुआती कारोबार में 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 600 अंक से ज्यादा टूटा, जबकि निफ्टी 150 अंक टूटा। कोरोना केसेज राइज न्यूज और दिन की प्रगति के कारण इस गिरावट में तेजी आई।

खुद का बिज़नेस स्टार्ट करने के लिए सरकार दे रही है 10 लाख का लोन बिना किसी गारंटी के, जानिए पूरी खबर

सुबह 10.27 बजे तक बीएसई सेंसेक्स 654.78 अंकों की गिरावट के साथ 60,171.44 पर, जबकि निफ्टी इंडेक्स 203.95 अंकों की गिरावट के साथ 17,923.40 पर बंद हुआ। निफ्टी इंडेक्स 320.55 अंक या 1.77 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,806.80 पर बंद हुआ।

पिछले तीन दिनों में सेंसेक्स इतना टूटा

चीन में कोरोना (चीन कोविड) के बेकाबू हो जाने की खबरों और जापान और अमेरिका समेत कई देशों में संक्रमण के तेज बढ़ने से बाजार तीन दिन की गिरावट से उबर नहीं पाया है.

बुधवार को सेंसेक्स 635 अंक, गुरुवार को बीएसई सूचकांक 241 अंक और शुक्रवार को सेंसेक्स 980.93 अंक या 1.61 प्रतिशत टूटा जब वह अपने 60 हजार के स्तर को बनाए नहीं रख सका। भारी गिरावट के साथ 59,845.29 के स्तर पर बंद हुआ है।

निवेशकों के 5.5 लाख करोड़ डूबे

शुक्रवार को आई बड़ी गिरावट से शेयर बाजार के निवेशकों के 5.5 लाख करोड़ रुपये एक झटके में साफ हो गए. पिछले कारोबारी दिन की समाप्ति तक, बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण पिछले दिन के 280.55 लाख करोड़ रुपये की तुलना में 275.01 लाख करोड़ रुपये था।

TATA Capital Personal Loan : टाटा कैपिटल के पर्सनल लोन के साथ अपने जीवन को नए सिरे से शुरु करें , जाने पूरी जानकारी

बुधवार को निवेशकों के 4.5 लाख करोड़ रुपए का नुकसान भी हुआ। शेयर बाजार के निवेशकों के घाटे के मुताबिक बीते एक हफ्ते में 16 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। 14 दिसंबर तक बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 291.25 लाख करोड़ रुपये था।

खबरें व्हाट्सप्प पर पाने के लिए,अभी जॉइन करें व्हाट्सप्प ग्रुप
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Sachin Jaisawal

Sachin Jaisawal is 2 years of experience Journalist. Sachin Wrote News Article on Wbseries Media