Har Ghar Tiranga: अगर राष्ट्रीय ध्वज फट गया तो क्या करना होगा? MCD ने जारी किए निर्देश

अगर राष्ट्रीय ध्वज फट गया तो क्या करना होगा– 13 से 15 अगस्त तक प्रधानमंत्री मोदी ने हर घर में तिरंगा फहराने की अपील की है. इसके अतिरिक्त, उन्होंने 2 अगस्त तक सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं को अपनी प्रोफाइल तस्वीरों में तिरंगा लगाने के लिए प्रोत्साहित किया। सरकार ने इस योजना के लिए 20 करोड़ घरों को लक्षित किया है। इस योजना में एमसीडी ने दिशा-निर्देश दिए हैं कि तिरंगा क्षतिग्रस्त होने पर क्या किया जाएगा।

दिल्ली नगर निगम ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के तहत सभी अंचल कार्यालयों को राष्ट्रीय ध्वज का सही तरीके से निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं.

Read Also- Dulhan Ka Video: मेकअप उतारते ही दुल्हन को देख नहीं सका दूल्हा, बेहोश होकर वहीं गिर पड़ा- देखें वीडियो

Follow us on Gnews


एक गंदा, फटा या क्षतिग्रस्त राष्ट्रीय ध्वज जोनल कंट्रोल रूम में जमा किया जाएगा। फ्लैग कोड-2002 के तहत भारत सरकार का गृह मंत्रालय गंदे और क्षतिग्रस्त राष्ट्रीय झंडों का निस्तारण करेगा।

एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, दिल्ली नगर निगम तिरंगे को बहुत महत्व और सम्मान देता है। फ्लैग कोड के अनुसार, सभी क्षेत्रीय कार्यालयों को निर्देश दिया जाता है कि वे क्षतिग्रस्त या गंदे झंडों को लापरवाही से न फेंके और न ही फेंकें, बल्कि सम्मान के साथ उनका निपटान करें। मैं तो चला।

क्या है ‘हर घर तिरंगा’ अभियान 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मन की बात में 13 से 15 अगस्त तक देश के हर घर में तिरंगा फहराने का आग्रह किया था। उन्होंने सोशल मीडिया यूजर्स से 2 अगस्त से शुरू होने वाली अपनी प्रोफाइल फोटो में तिरंगा लगाने का भी आग्रह किया था। इस योजना के लिए 20 करोड़ घर।
इस योजना में सरकारी और निजी प्रतिष्ठान भी शामिल होंगे। प्रशासन की ओर से इसकी तैयारी जोर-शोर से की जा रही है। इसके लिए नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं।

इस उद्देश्य के लिए केंद्र सरकार द्वारा तीन प्रकार के झंडे तैयार किए गए हैं। तिरंगा डाकघर के साथ-साथ ऑनलाइन भी उपलब्ध होगा।

Follow US On Google NewsClick Here
 Facebook PageClick Here
 Telegram Channel WbseriesClick Here
 TwitterClick Here
 Website Click Here
Join Whatsapp

Wbseries Desk Manage By Many Expert authors. Which is expert in Entertainment Field. You Can Contact Via email- [email protected]

Previous

मुगल बादशाह क्यों नही करते थे अपनी बेटियो शादी? जानिए इसके पीछे का सच!

Next

ट्रांसपेरेंट पीले कपड़े को लपेटकर पब्लिक प्लेस में आ गईं उर्फी जावेद, पार कर दी सारी मर्यादा