दो सिर और तीन पैर वाले बच्चे क्यों पैदा होते हैं? जानें कब होता है ऐसा

दो सिर और तीन पैर वाले बच्चे क्यों पैदा होते हैं? जानें कब होता है ऐसा: हाल ही में भारत में दो सिर वाले बच्चे के जन्म का मामला सामने आया है। इस बच्चे के दो सिर, तीन हाथ और दो दिल हैं। डॉक्टरों का मानना ​​है कि यह बहुत ही दुर्लभ मामला है। इस तरह से जन्म लेने वाले बच्चों के बचने की संभावना बहुत कम होती है। डॉक्टरों का कहना है कि यह डायसेफेलिक पैराफैगस नाम की बीमारी है। तो आइए जानते हैं क्या है यह बीमारी और इसके कारण और लक्षण।
हाल ही में भारत में एक ऐसे बच्चे के जन्म का मामला सामने आया, जिसने डॉक्टरों को भी हैरान कर दिया। यहां एक बच्चे का जन्म होता है जिसके दो सिर, तीन हाथ और दो दिल होते हैं।

शाहीन खान और उनके पति सोहेल को शुरू में बताया गया था कि उनके जुड़वां बच्चे पैदा होने वाले हैं। लेकिन जब बच्चे पैदा हुए तो प्रसूति वार्ड में डॉक्टरों समेत सभी की आंखें फटी की फटी रह गईं। शाहीन ने दो सिर वाले बच्चे को जन्म दिया। मामला मध्य प्रदेश के रतलाम का है। नवजात के जन्म के तुरंत बाद उसे इंदौर के एक बड़े अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जबकि बच्चे की मां को जिला अस्पताल में ही रखा गया था.

डॉक्टरों का कहना है कि यह डायसेफेलिक पैराफैगस नाम की बीमारी है। डॉक्टर का मानना ​​है कि यह दुर्लभ मामला है। ऐसे बच्चों के बचने की संभावना बहुत कम होती है। ऐसे में आइए जानते हैं क्या है डायसेफेलिक पैराफैगस डिजीज, कैसे एक साथ बच्चे पैदा होते हैं और इसके क्या कारण हैं-
डाइसेफेलिक पैराफैगस रोग एक ही शरीर पर दो सिरों के साथ आंशिक संलयन का एक दुर्लभ रूप है। नवजात शिशुओं के इस तरह के संबंध को आम भाषा में दो सिर वाले बच्चों के नाम से भी जाना जाता है। इस तरह से पैदा होने वाले ज्यादातर बच्चे जन्म से पहले या जन्म के तुरंत बाद मर जाते हैं। इस तरह से जुड़े हुए बच्चों के बचने की संभावना बहुत कम होती है।

Follow us on Gnews

Read Also:अपनी मूंछ पर ताव देती है यह महिला, लोग उड़ाते हैं मजाक लेकिन इसलिए नहीं कटवातीं

मेयो क्लिनिक के अनुसार, ऐसे जुड़वाँ बच्चे श्रोणि, पेट या छाती में एक साथ जुड़े होते हैं लेकिन उनके सिर अलग होते हैं। इसके अलावा, इन जुड़वा बच्चों के दो, तीन या चार हाथ और दो या तीन पैर हो सकते हैं। ऐसे बच्चों के शरीर के अंग कभी-कभी एक जैसे होते हैं या अलग भी हो सकते हैं। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहां डॉक्टरों ने आपस में जुड़े बच्चों को अलग कर दिया है लेकिन इसकी संभावना बहुत कम है। साथ ही, इस प्रकार की सर्जरी में, यह इस बात पर निर्भर करता है कि बच्चे कहां जुड़े हैं और वे किन अंगों को साझा कर रहे हैं।

Follow US On Google NewsClick Here
 Facebook PageClick Here
 Telegram Channel WbseriesClick Here
 TwitterClick Here
 Website Click Here
Join Whatsapp

Hi, My Name is Lalita. I am an expert in writing News articles, I Have 2-3 Years of Experience, If You have any issues You Can Contact me Through Mail- [email protected]

Previous

Shamita Shetty-Raqesh Bapat Breakup: राकेश-शमिता का हुआ ब्रेकअप, कपल ने कहा- ‘अब हम साथ नहीं’

Next

करण जौहर ने पूछा- ‘सेक्स कब किया’ अनन्या पांडे बोली- ‘आज सुबह ही….. विडियो वायरल